Breaking NewsDelhiEvents

केविन मिस्सल द्वारा ” कर्ण द किंग ऑफ अंग पुस्तक ” का विमोचन

कर्ण द किंग ऑफ अंग को 17 सितंबर 2021 को बेला इटालिया हॉलिडे इन, एरोसिटी, दिल्ली में लॉन्च.किया गया।
बुक लॉन्च के बाद कुछ सम्माननीय अतिथियों और प्रकाशक (साइमन एंड शूस्टर इंडिया) के साथ पुस्तक पर संक्षिप्त चर्चा हुई।
कैविन मिस्सल का उद्देश्य इस महान रचना के माध्यम से दोस्ती, प्यार, विश्वासघात और शक्ति की कहानी को चित्रित करना है।

भारत का लौह युग… लगभग 900 ई.पू.

गंगा की गोद में जन्मे, वासु (कर्ण) अंग के उम्र प्रांत में पले-बढ़े। उनके जीवन को ऐसे आकार दिया गया जो न्यायसंगत होने में विफल
कल – रा द्वारा उपेक्षित, उनके जन्मसिद्ध अधिकार को छीन लिया – वह इच्छाओं और निराशा के रसातल में खो जाने के लिए
मजबूर हो गया था। अपने गुरु द्वारा शापित, एकमात्र महिला से आहत, जिसे वह प्यार करता था, एक सूत का पुत्र होने के कारण समाज से बहिष्कृत कर दिया गया था। अपने एकमात्र कवच-आशा के साथ-वह एक अविस्मरणीय यात्रा पर निकल पड़ा अकेला। यह वासु के जीवित रहने की, धीरज की, सभी प्रतिकूलताओं का सामना करने के साहस की कहानी है। और अंत में, अब तक के
सबसे महान योद्धा के रूप में विकसित होने का… कर्ण। अपने कट्टर दुश्मन के खिलाफ एक अंतिम लड़ाई में – कपटी, अपमानजनक और सर्वशक्तिमान, जरासंध, एक उपाधि के लिए जिसे वह जानता था कि वह योग्य है। एक सुतापुत्र से लेकर लोगों के नेता तक, यह विश्वासघात, खोया हुआ प्यार और गौरव की गाथा है। केविन ने अपनी कहानी के माध्यम से एक महा नायक को पुनः रचा है।

यह पुस्तक सभी प्रमुख बुक स्टोर्स और ई-कॉमर्स पोर्टल जैसे
अमेज़न और फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है।

 

केविन मिस्सल 25 वर्षीय लेखक और उद्यमी हैं, जिन्हें अपनी कल्कि श्रृंखला के साथ सफलता मिली है। उन्होंने 200,000 से अधिक प्रतियां बेची हैं, 5 से अधिक भाषाओं में अनुवाद किया है और दो फिल्‍म अधिकार बेचे हैं। उनकी किताबें हार्पर कॉलिन्स इंडिया, साइमन एंड शूस्टर इंडिया और पेंगुइन इंडिया द्वारा प्रकाशित की गई हैं। लेखन की दुनिया में अपनी जगह और शैली को उकेरते हुए केविन ने अपने पाठकों पर अपनी पकड़ बना ली है। लेखक केविन ने बातचीत बताया की उन्हें कर्ण के विषय मे लिखने के लिए उनके पाठकों ने प्रेरित किया केबिन ने बताया कि उनको पौराणिक कथाएं काफी पसंद है महाभारत में कर्ण का किरदार उन्हें काफी पसंद आया तो उन्होंने इसपे लिखने की सोची। पौराणिक कथाओं को आज के लेखन में ढाल के आज के युवाओं को केविन इतिहास से जोड़ने में अहम भूमिका निभा रहे है।

वही केविन के पिता ने कहा केविन को बचपन से ही लिखने का शौक है। जब वह 12वी कक्षा में थे तभी उन्होंने किताब लिख ली थी। केविन एक टेडएक्स स्पीकर हैं, जिन्हें यूथ अचीवर 30 अंडर 30 के लिए नामांकित किया गया है। वह एक उद्यमी भी हैं, उनकी कंपनी “हबहॉक्स” शीर्ष ब्रांडों के साथ काम करने वाली एक कंपनी है। हबहॉक्स की टीम ने बातचीत में बताया कि उन सबको केविन की किताब काफी पसंद आई।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button